IIT Full Form in Hindi | IIT एडमिशन लेने के लिये योग्यता

आज हमने इस आर्टिकल में IIT Full Form in Hindi, IIT Full Form, IIT का पूरा नाम, आईआईटी का इतिहास, IIT के लिये योग्यता और भी ऐसे बहुत से सवाल जो IIT से सम्बंधित है उन सभी को इस आर्टिकल में विस्तार से बताया है.

आज हमने इस आर्टिकल में IIT Full Form in Hindi, IIT Full Form, IIT का पूरा नाम, आईआईटी का इतिहास, IIT के लिये योग्यता और भी ऐसे बहुत से सवाल जो IIT से सम्बंधित है उन सभी को इस आर्टिकल में विस्तार से बताया है.

आप इस आर्टिकल को ध्यान से शुरू से अंत तक पढ़े आपको IIT के बारे में पूरी जानकारी मिल जाएगी। और आपको IIT से सम्बंधित जानकारी के लिए किसी और ब्लॉग पर जाने की आवश्यकता नहीं पडेगी

इसमें IIT Full Form के साथ IIT करने के फायदे, IIT के बाद जॉब्स के अवसर, और जॉब के बाद सैलरी जैसे सभी सवालो को रखा है.

IIT Ka Full Form

IIT Full Form

IIT ka Full Form ‘Indian Institute Of Technology‘ होता हैं. और ऐसे हिंदी भाषा में इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी के नाम से जाना जाता है.

I Indian
I Institute of
T Technology

IIT Full Form in Hindi

आईआईटी का हिंदी फुल फॉर्म “भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान” होता है. यही इंग्लिश फुल फॉर्म का हिंदी फॉर्म होता हैं.

I Indian भारतीय
I Institute संस्थान
T Technology प्रौद्योगिकी

आईआईटी क्या होता है?

आईआईटी की पढ़ाई उनके लिए होता है जो इंजीनियर बनना चाहते है. IIT करने के बाद बहुत बड़े इंजीनियर बन जाते है. और आप भी IIT करके इंजीनियर बन सकते हैं और इसके बाद आप बहुत अच्छी एक जॉब भी प्राप्त कर सकते है. और पैकेज भी बहुत अच्छा दिया जाता है. (1)

हमारे भारत देश में कुल 23 IIT के कॉलेजेस है. जिनमे अगर आप भी पढाई करना चाहते है. तो आपको पहले एंट्रेंस एग्जाम पास करना पड़ेगा। जिसे पास करना बहुत ही मुश्किल होता हैं.

आईआईटी का इतिहास

हमारे देश में सबसे पहले IIT कॉलेज की स्थापना खड़कपुर में सन 1951 में की गयी थी. और अंतिम कॉलेज की स्थापना 2016 धारवाड़ में की गयी थी. इस समय भारत में कुल 23 IIT के कॉलेजेस उपलब्ध है.

भारत के 23 आईआईटी इंस्टिट्यूट कोनसे और कहाँ है.

आइये जानते है की भारत में 23 इंस्टिट्यूट कहाँ पर स्थित है.

  • IIT संस्थान, खड़गपुर (सन 1951)
  • IIT संस्थान, मुंबई (सन 1958)
  • IIT संस्थान, कानपुर (सन 1959)
  • IIT संस्थान, मद्रास (सन 1959)
  • IIT संस्थान, दिल्ली (सन 1963)
  • IIT संस्थान, गुवाहाटी (सन 1994)
  • IIT संस्थान, रुड़की (सन 2001)
  • IIT संस्थान, रोपड़ (सन 2008)
  • IIT संस्थान, भुवनेश्वर (सन 2008)
  • IIT संस्थान, गांधीनगर (सन 2008)
  • IIT संस्थान, हैदराबाद (सन 2008)
  • IIT संस्थान, जोधपुर (सन 2008)
  • IIT संस्थान, पटना (सन 2008)
  • IIT संस्थान, इंदौर (सन 2009)
  • IIT संस्थान, मंडी (सन 2009)
  • IIT संस्थान, वाराणसी (सन 2012)
  • IIT संस्थान, पलक्कड़ (सन 2015)
  • IIT संस्थान, तिरुपति (सन 2015)
  • IIT संस्थान, धनबाद (सन 2016)
  • IIT संस्थान, भिलाई (सन 2016)
  • IIT संस्थान, गोवा (सन 2016)
  • IIT संस्थान, जम्मू (सन 2016)
  • IIT संस्थान, धारवाड़ (सन 2016)

आईआईटी एडमिशन लेने के लिये योग्यता

आईआईटी एडमिशन लेने के लिए आपको 12th तक की पढाई उत्तीर्ण करने के साथ आपके पास 12TH के सब्जेक्ट में गणित(MATH) जरूर होना चाहिए।

इसके बाद आपको सबसे पहले एक एंट्रेंस एग्जाम देना होगा जिसे दो भागो में आयोजित किया जाता है. जो एक pre Exam होता है ऐसे करने के बाद mains exam होता जिसे क्लियर करने के बाद आप IIT में एड्मिशन के योग्य हो जाते है. 

अगर आप IIT एंट्रेंस एग्जाम देने का सोच रहे तो आपको पहले तैयारी करनी पड़ेगी क्योंकि इसका एंट्रेंस एग्जाम बहुत ही कठिन होता है.

आईआईटी एंट्रेंस एग्जाम सब्जेक्ट

IIT एंट्रेंस एग्जाम में ये निम्न सब्जेक्ट के प्रश्न पूछे जाते है.

  • गणित (Math)
  • भौतिक विज्ञान (Physics)
  • रसायन विज्ञान (Chemistry)

आप IIT के एंट्रेंस एग्जाम को देने से पहले आप इन सभी सब्जेक्ट पर अच्छी जानकारी को प्राप्त कर ले. टंकी आप आसानी से एंट्रेंस एग्जाम को पास कर पाए.

आईआईटी करने के फायदे

आईआईटी करने के फायदे निम्न प्रकार से है.

  • आईआईटी इंजीनियर बनने के लिए आप भी कर सकते हैं. इसमें आपको बहुत प्रकार की जानकारियां प्राप्त होती है जिसे आप समाज सेवी भी बन सकते है. आईआईटी करने से आप बहुत अच्छे इंजीनियर बन सकते है
  • आईआईटी करने के बाद आपको नौकरी के लिए खोजना नहीं पड़ता आपको आईआईटी करते ही आप नौकरी पा सकते है.
  • आईआईटी करने के बाद आपको समाज के बारे में जानकारी मिलती है.
  • आईआईटी करने के बाद आपको एक अच्छी रिपोटेटेड कंपनी मैं जॉब के साथ अच्छा पैकेज पा सकते है.

आईआईटी के बाद जॉब्स

आईआईटी करने के बाद आपको जॉब की तलाश नहीं करना पड़ेगा अगर आप आईआईटी अच्छे नंबर से पास करते है तो कम्पनीज खुद से आपको संपर्क करेंगे। और नौकरी के लिए कन्वर्ट करेंगे।

एक अच्छी सैलरी के साथ आप अच्छी कंपनी में जॉब प्राप्त कर सकते हैं.

आईआईटी करने के बाद सैलरी

सैलरी आपके कंपनी के हिसाब से मिलेगी आप वहां क्या काम करते है. और कोनसी कंपनी है लेकिन हम इसमें एक एस्टीमेट सैलरी जानेंगे।

एक आईआईटी इंजीनियर की पुरे साल की सालाना इनकम 11.1 लाख रुपए तक होती है.

आज आपने क्या सीखा

इस आर्टिकल में हमने IIT Ka Full Form, IIT Full Form in Hindi के साथ साथ IIT से सम्बंधित बहुत सी जानकारियों को प्रदान किया और अगर आपने इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ा होगा तो अब तक आपको IIT के बारे में पता चल गया होगा।

मुझे आशा है आपको हमारा आर्टिकल IIT Ka Full Form पसंद आया होगा यदि हाँ तो आप इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे.

आपको आर्टिकल कैसा लगा और इसके साथ आपके पास अभी भी कोई प्रश्न हो जो IIT से सम्बंधित है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से पूछे।

ऐसी महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए हमारे ब्लॉग Hindimont पर विजिट करते रहे.

इसे भी पढ़े

FAQ

IIT Ka Full Form क्या होता है?

IIT ka Full Form ‘Indian Institute Of Technology’ होता है.

आईआईटी का इतिहास?

हमारे देश में सबसे पहले IIT कॉलेज की स्थापना खड़कपुर में सन 1951 में की गयी थी. और अंतिम कॉलेज की स्थापना 2016 धारवाड़ में की गयी थी. इस समय भारत में कुल 23 IIT के कॉलेजेस उपलब्ध है.

आईआईटी एंट्रेंस एग्जाम सब्जेक्ट क्या होते है?

गणित (Math)
भौतिक विज्ञान (Physics)
रसायन विज्ञान (Chemistry)

Sandeep Mittal

मैं संदीप मित्तल (ब्लॉगर और एसईओ विशेषज्ञ) पिछले 5 वर्षों से एसईओ कर रहा हूँ. इस ब्लॉग से मेरा उद्देश्य लोगो तक बहुत सी चीजों के बारे में सही ज्ञान पहुँचाना है. आप हमारे ब्लॉग पर : स्पोर्ट्स, टेक्नोलॉजी, फुल फॉर्म, राजनीती, एंटरटेनमेंट, इत्यादि के बारे में बहुत ही आसानी से पढ़ पाएंगे।

Previous Post
Next Post

Leave a Reply

Your email address will not be published.