SHO Full Form in Hindi | SHO किसे कहते हैं | SHO कैसे बनें

Advertisement

आज हम इस आर्टिकल में SHO Full Form in Hindi , SHO ka Full Form, SHO का मतलब, SHO क्या है, SHO किसे कहते है, SHO Full Form in Hindi, SHO क्या होता है. ऐसे बहुत से सवाल जो SHO से सम्बंधित है हमने उनका जवाब इस आर्टिकल में दिया है आप इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़े.

अगर आप SHO से सम्बंधित जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर आये है तो आपको यहां एसएचओ के बारे में बहुत कुछ जानने को मिलेगा। जिसे आप इस आर्टिकल को पढ़कर प्राप्त कर सकते है.

Advertisement

SHO Full Form in Hindi

SHO Full Form

SHO फुल फॉर्म “Station House Officer” होता है. जो पुलिस स्टेशन का ऑफिसर होता है.

  • S – Station
  • H – House
  • O – Officer

SHO पुलिस में वो पद होता है. जिसे प्रदेश सरकार के द्वारा मनोनीत किया जाता है. SHO पुलिस स्टेशन का इंचार्ज होता है इसलिए ऐसे पुलिस स्टेशन Officer कहा जाता है.

SHO Full Form

SHO को हिंदी भाषा में “स्टेशन हाउस अधिकारी” कहा जाता है. SHO का हिंदी फुल फॉर्म है.

एस (S) Station (स्टेशन)
एच (H) House (हाउस)
ओ (O) Officer (अधिकारी)

SHO Hindi

ऊपर की जानकारी के अनुसार अब तक आपको पता चल गया होगा की SHO का फुल फॉर्म और SHO का हिंदी में फुल फॉर्म क्या होता है.आगे हम SHO के बारे में और भी अधिक जानकारी प्राप्त करेंगे। SHO का पूरा नाम “Station House Officer” होता है. और ऐसे ही हिंदी भाषा में “स्टेशन हाउस अधिकारी” कहा जाता है.

SHO क्या होता है. (What is SHO?)

SHO प्रदेश सरकार द्वारा मनोनीत किया गया वो पद होता है जो जिस पुलिस स्टेशन का है वो वहां का इंचार्ज होता है वो पुलिस स्टेशन उस SHO के अंडर होता है. SHO को हिंदी में स्टेशन हाउस अधिकारी इसलिए कहा जाता है. क्योंकि SHO ही पुलिस स्टेशन के कार्य पर नज़र रखता है और स्टेशन की गतिविधियों को देखता है.

SHO के पद के लिए किसी भी प्रकार की भर्ती नहीं होती इसके लिए पहले SI पोस्ट होती है उसके बाद उसके काम को देखकर उसे SHO पद पर प्रमोट किया जाता है. एक SHO अधिकारी के कंधे के ऊपर 3 स्टार लगे होते है और इसके साथ ही आउट शोल्डर पर ब्लू और रेड रिबोन स्ट्रिप लगी होती है. SHO किसी अपराध के बारे में जानकारी प्राप्त करना खोज करना होता है. और SHO का बहुत ही सम्मान-जनक पद होता है.

SHO का मतलब

SHO पुलिस स्टेशन का एक मुख्य अधिकारी होता है. स्टेशन हाउस अधिकारी (SHO) अपने स्टेशन की देखरेख करता है. और इलाके में चल रही कानून व्यवस्था को बनाये रखने का कार्य करता है. SHO पद स्टेशन का सबसे बड़ा पद होता है इससे छोटा SI पद होता हैं जो बाद में SHO पद पर प्रमोट किया जाता है.

लेकिन SHO पुलिस उपाध्यक्ष (DSP) से छोटा पद होता है. SI. हेड कांस्टेबल, SHO के आधीन कार्य करते हैं. SHO के पास स्थिति को देखकर अपने आप से फेंसला लेने का अधिकार और बहुत सी जिम्मेदारियां होती है. (1)

SHO की पहचान?

SHO की पहचान करना बहुत ही आसान है जिसमे SHO के कंधे पर तीन स्टार लगे होंगे और बाहर शोल्डर पर लाल और नील रंग का रिबों स्ट्रिप लगी होती है. अगर आपको ये सब किसी पुलिस ऑफिसर के मिले तो आप समझ जाये वो SHO ऑफिसर है.

SHO के कार्य

SHO के बहुत से कार्य होते है जो निम्न प्रकार से है.

  • SHO अपने पोलिस स्टेशन का प्रतिनिधित्व और अपने क्षेत्र के सभी अपराधों की जाँच करता हैं.
  • जिस इलाके में SHO होता है वो वहां की कानूनन व्यवस्था को बनाये रखने का कार्य करता है. और व्यवस्था को बिगड़ने नहीं देता।
  • सब इंस्पेक्टर और कांस्टेबल के साथ घटित घटना स्थल की जाँच करना भी SHO का कार्य होता हैं.
  • SHO अपने मन से पुलिस स्टेशन में फेंसला ले सकता है जिसके लिए वो एकदम सवतंत्र होता है. वो चाहे किसी भी प्रकार का फेंसला हो वो एक SHO अधिकारी ले सकता है.
  • अपने क्षेत्र के रेलवे स्टेशन की जाँच करना भी SHO का कार्य होता है.
  • SHO (स्टेशन हाउस ऑफिसर) अदालत में पेश हो सकता है अर्थात उसके पास पूरा अधिकार होता है.

SHO कैसे बनें

यदि आप SHO बनना चाहते हैं तो आप डायरेक्ट SHO नहीं बन सकते क्योंकि इसमें किसी भी प्रकार की भर्ती नहीं होती इसके लिए सबसे पहले आपको SI बनना पड़ेगा क्योंकि जो SI पद पर होते है उन्हें ही प्रमोशन के बाद SHO का पद मिलता है.

SHO एक तरीके से हमारी और हमारे देश की सेवा करते है क्योंकि ये अपने शहर में कानून को सही तरीके से बनाये रखने की पूरी कोशिश करते है. तांकि किसी को कोई भी परेशानी न हो. तो आपको सबसे पहले SI की तैयारी करनी चाइये जिसमे आपको पहले SI लगना पड़ेगा उसके बाद आपके काम को देखते आपको जब प्रमोशन मिलेगा तब आप SHO बन जांयेंगे।

SHO की सैलरी?

SHO का कोई एक वेतन नहीं होता क्योंकि इन्हे प्रदेश सरकार के द्वारा वेतन दिया जाता है जिसमे ₹27000 से लेकर ₹104400 के मध्य वेतन दिया जाता है वो प्रतिमाह होता है.

अभी हमने SHO के बारे में सभी जानकारी जान ली है लेकिन अभी कोई प्रश्न है तो आप हमनसे पूछे।

  • सैलरी – (27000-104400) रूपये/प्रतिमाह

आज आपने क्या सीखा

आज आपने इस आर्टिकल में SHO Full Form, SHO का पूरा नाम, SHO का कार्य, SHO का वेतन, SHO कैसे बने, SHO क्या हैऐसे बहुत से सवाल जो SHO से सम्बंधित है हमने इस आर्टिकल में उनको बहुत ही विस्तारित रूप में जवाब दिया है. अगर आप इस आर्टिकल को पूरा पड़ेंगे तो अब तक आपको SHO से सम्बंधित सभी जानकारी प्राप्त हो गयी होंगी अगर आपके पास अभी भी कोई प्रश्न है तो आप हमसे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते है.

यदि आपको हमारा आर्टिकल SHO फुल फॉर्म अच्छा लगा तो आप हमें कमेंट माध्यम में जरूर बताये

अगर कोई सुझाव हो तो भी आप हमें कमेंट में बता सकते है.

इस जानकारी को अपने दोस्तों और सोशल नेटवर्क पर भी साझा करे जिससे और लोग भी इसका फायदा उठा पाए.

ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारियों को पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग Hindimont पर विजिट करते रहे.

FAQ

SHO Full Form हिंदी में क्या है?

SHO को हिंदी भाषा में “स्टेशन हाउस अधिकारी” कहा जाता है. SHO का हिंदी फुल फॉर्म है.

SHO का फुल फॉर्म क्या है?

SHO फुल फॉर्म “Station House Officer” होता है.

SHO की सैलरी?

सैलरी – (27000-104400) रूपये/प्रतिमाह

Advertisement

Leave a Comment