ATM Full Form In Hindi | ATM के कार्य? | ATM के लिए सावधानियां

ATM Full Form in Hindi, ATM का मतलब, ATM क्या है, ATM का अर्थ, ATM कैसे इस्तेमाल करते है, What is ATM in Hindi, ऐसे बहुत से सवाल जो ATM से सम्बंधित है. उनका जवाब हमने इस आर्टिकल में विस्तार में दिया है.

अगर आप ATM से सम्बंधित जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर आये है तो आप एकदम सही जगह आये है. अगर आप इस आर्टिकल को शुरू से अंत तक पढ़ते है तो आपको ATM फुल फॉर्म के बारे में किसी भी जानकारी के लिए कहीं और जाने की आवश्यकता नहीं।

ATM Full Form in Hindi

हम लगभग हर रोज ATM का इस्तेमाल करते है. लेकिन हमें ATM का फुल फॉर्म नहीं पता होगा हर एक शहर में जगह जगह ATM मौजूद है जिसे हम कहीं भी जाके इस्तेमाल करके ATM से पैसे निकल सकते है.

ATM Full Form in hindi “Automated Teller Machine” होता हैं, जिसको हम हिंदी भाषा में “ऑटोमेटेड टेलर मशीन” के नाम से जानते है।

एटीएम का फुल फॉर्म हिंदी में “स्वचलित टेलर मशीन” होता है. जिससे अलग अलग भाषा के तहत अलग अलग तरीके से लिखा जाता है.

  • एटीएम – स्वचलित टेलर मशीन

ATM क्या है? (What is ATM in Hindi)

एटीएम एक ऐसी मशीन होती है जो सभी बैंको से जुडी होती है हम अपने बैंक अकॉउंट के डेबिट कार्ड से कहीं भी किसी भी एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं. ATM मशीन का लगभग सभी लोग प्रयोग करते है. और जब हम बैंक अकाउंट खुलवाते है  अकाउंट के साथ एक कार्ड भी पूछा जाता है जिसके सालाना शुलक होता है जिसे हमें भरना पड़ता है तभी हम ATM सेवा को इस्तेमाल कर सकते है.

पहले एटीएम मशीन से पैसे निकलने के अलावा कोई काम नहीं होता था लेकिन आज हम एटीएम से कार्ड का पिन चेंज करना और बैलेंस चेक करना ये सब भी कर सकते है. जिससे हम बिना बैंक गए बहार से एटीएम की सहायता से ये सब जाँच पाएंगे।

ATM के कार्य? (Work of ATM)

  • ATM से हम अकाउंट से पैसे बहुत ही आसानी से निकल सकते है
  • एटीएम के सहायता से हम अपने अकाउंट का बैलेंस भी चेक कर पाएंगे।
  • एटीएम की मदद से नए एटीएम कार्ड को एक्टिवटे कर सकते है.
  • ATM की सहायता से एटीएम कार्ड का पिन चेंज कर पाएंगे.

ATM के लाभ? (Advantages of ATM)

एटीएम आज बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि पहले पैसे निकलने के लिए हमें बैंको में लम्बी लाइन में लगना पड़ता था लेकिन आज हम बिना लाइन में लगे एटीएम की सहायता से पैसो को एटीएम से निकल सकते है.

  • हमें ATM से पैसे निकालने के लिए ATM पिन का पता होना चाहिए। जो हमारी सिक्योरिटी के लिए बैंक के द्वारा दिया जाता है उसे हम बदल भी सकते है.
  • ATM 24 घंटे उपलब्ध होता है हम जब चाहे तब पैसो को निकाल सकते है. और हम कहीं पर भी इसका इस्तेमाल कर सकते है ये सबसे बड़ी सुविधा मुझे अच्छी लगी
  • ऑनलाइन सभी प्रकार के भुगतान ATM की सहायता से कर सकते है.
  • एटीएम मशीन से अपने बैंक से किसी के बैंक अकाउंट में पेमेंट को ट्रांसफर कर सकते है.
  • अपने अकाउंट में एटीएम से पैसे जमा भी कर सकते है.

ATM का निर्माण? (उत्पत्ति)

27 june 1967 मे london के बार्कलेज बैंक ने सबसे पहले एटीएम मशीन को लगाया था. जिसे स्कॉटलैंड के इन्वेंटर जॉन शेफर्ड बैरन के द्वारा निर्माणित किया गया था. और इसे पिन जो ट्रांसक्शन पिन होता है उसे इन्होने 6 डिजिट का रखा था लेकिन 6 पिन के डिजिट को यद् रखने में बहुत परेशानी होती थी इसलिए इन्होने बाद में इसे 4 डिजिट का पिन को फाइनल किया जिसे आज हम भी इस्तेमाल कर पा रहे है.

ATM के दुष्परिणाम? (ATM Side Effect’s)

एटीएम कार्ड के भी कुछ नुकसान है आज जिस चीज के फायदे होते है उनके नुकसान भी होते है तो जानते है.

  • यदि आपका ATM कार्ड किसी के हाथ लग जाता है और उससे पिन पता लग जाये तो वो आपके एटीएम से पैसे चुरा सकता है.
  • अगर आप पढ़े लिखे है तभी ATM को अच्छे से इस्तेमाल कर सकते हैं. अन्यथा आप पैसे खो सकते है.

ATM के लिए जरुरी सावधानियां

अगर आप एक एटीएम उपयोगकर्ता है तो आपको अपने एटीएम को सुरक्षित रखने के लिए इन सभी सावधानिओ को रखना होगा।

  • अपने एटीएम पिन को कभी भी किसी को न बताये चाहे वो आपका दोस्त हो या रिश्तेदार हो ऐसे बताने पर आपके एटीएम से आसानी से पैसे चुरा सकते है.
  • बैंक जाते वक़्त बैंक के कर्मचारियों को अपने एटीएम से सम्बंधित जानकारी को देने से बचे
  • अपने एटीएम पिन को कहीं लिखकर न रखे उसे वैसे ही याद रखे.
  • जब आप पैसे निकलते है तो आप पीछे रुके हुए व्यक्ति को पिन डालते समय न देखने दे.

आपने क्या सीखा

आज आपने इस आर्टिकल में ATM फुल फॉर्म, ATM Full Form in Hindi, एटीएम का अर्थ, ATM क्या है, एटीएम का उपयोग, एटीएम के लाभ, और भी एटीएम से सम्बंधित जानकारी  हमने इस अर्टिकल में आपको दी है.

अगर आपने आर्टिकल को शुरू से अंत तक ध्यान से पढ़ा होगा तो अब तक आपको एटीएम से सम्बंधित जानकारी मिल गयी होगी लेकिन अगर अभी भी आपके पास कोई प्रश्न है. तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है.

अगर आपको पसंद आया तो आप ऐसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे. तांकि ये जानकारी और लोगो के पास भी पहुँच पाए

ऐसी और भी महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए हमारे ब्लॉग Hindimont पर विजिट करते रहे. 

Follow on Facebook :- Hindimont

FAQ

ATM क्या है? (What is ATM in Hindi)

एटीएम एक ऐसी मशीन होती है जो सभी बैंको से जुडी होती है हम अपने बैंक अकॉउंट के डेबिट कार्ड से कहीं भी किसी भी एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं.

ATM Full Form in Hindi?

ATM  Full Form “Automated Teller Machine” होता हैं, जिसको हम हिंदी भाषा में “ऑटोमेटेड टेलर मशीन” के नाम से जानते है।

ATM का निर्माण? (उत्पत्ति)?

27 june 1967 मे london के बार्कलेज बैंक ने सबसे पहले एटीएम मशीन को लगाया था. जिसे स्कॉटलैंड के इन्वेंटर जॉन शेफर्ड बैरन के द्वारा निर्माणित किया गया था.

Leave a Comment