PCS Full Form in Hindi | पीसीएस परीक्षा का सिलेबस क्या हैं?

दोस्तों स्वागत है आपका मेरे ब्लॉग पर आज हमने इस आर्टिकल में PCS Full Form in Hindi, PCS Ka Full Form, PCS Full Form, Full Form of PCS, ऐसे सभी सवालो के जवाब बहुत विस्तारित रूप में दिए है.

आप PCS से सम्बंधित जानकारी के लिए इस ब्लॉग पर आये है तो आपको यहाँ सभी सवालो के जवाब मिल जायेंगे.

इस आर्टिकल को पूरा पढ़ने के बाद आपके मन में PCS से सम्बंधित कोई भी प्रश्न नहीं बचेगा।

JEE FULL FORM

PCS Full Form in Hindi

PCS Full Form

दोस्तो आज के समय में आपको नौकरी प्राप्त करनी हो तो आपको बहुत ही कठिन परिश्रम करके अपने आपको सबसे बेहतर प्रमाणित करना पड़ेगा। तभी आप उस नौकरी को पा सकते है.

कठिन परिश्रम के बाद भी अगर आपको सफलता नहीं मिलती तो इसका एक ही कारण हो सकता है आपको इसके बारे में पूरी जानकारी न होना। पूरी जानकारी के बाद परिश्रम से सफलता जरूर मिलेगी।

एक सही मार्गदर्शक ही आपको सफलता दिलाने में मदद कर सकता है. जिससे आपकी म्हणत का फल अवश्य मिलता है. आगे हम PCS के बारे में जानकारी डिटेल में जानेंगे।

PCS Ka Full Form

PCS का Full Form “Provincial Civil Service” होता हैं, और ‘प्रोविंशियल सिविल सर्विस’ हिंदी भाषा में बोला जाता हैं

  • P – Provincial 
  • C – Civil 
  • S – Service

PCS एक राज्य का पद होता है जो राज्य में चल रहे सरकारी नीतियों के लिए होता है. इसकी परीक्षा राज्य सरकार द्वारा करवाई जाती है. और इसका चयन राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा परीक्षा से करवाई जाति है.

PCS Full Form

PCS फुल फॉर्म “Provincial Civil Service” होता है इसका आपको पता चल गया होगा इसका सही हिंदी में अर्थ क्या है जानते है.

PCS ka अंग्रेजी फुल फॉर्म  Provincial Civil Service है और हिंदी में इसे प्रांतीय नागरिक सेवा बोला जाता है.

  • पीसीएस – प्रांतीय नागरिक सेवा

PCS का मतलब

PCS एक राज्य सरकार द्वारा आयोजित परीक्षा है जिसमे सफल होने पर विद्यार्थियों को Business Tax Officer, District Food Marketing Officer, SDM DSP, BDO, ARTO इस प्रकार को बहुत ही बड़े-बड़े पदों पर नियुक्त किया जाता है.

PCS परीक्षा के लिये योग्यताएं (PCS Exam Eligibility)

PCS परीक्षा के कुछ इस प्रकार की योग्यताए जरुरी होनी चाहिये जो इस प्रकार हैं

1. शैक्षणिक योग्यता (education Qualification)

PCS Exam के लिए आपकी शैक्षणिक योग्यता ग्रेजुएशन होनी चाहिए आपके पास किसी यूनिवर्सिटी का सर्टिफिकेट जरुरी है तभी आप PCS का Exam दे सकते है.

2. आयु सीमा (Age Limit)

PCS की परीक्षा के लिए कम से कम आयु 21 वर्ष और अधिकतर आयु 40 वर्ष तक हो तभी वो व्यक्ति PCS का एग्जाम दे सकता है इनकी आयु 21-40 के मध्य होनी चाहिए।

इस कुछ वर्गो के लिए 5 वर्ष तक की छूट भी है वो वर्ग , OBC/SC/ST वर्ग है. अगर आपको PCS का कोई भी पद चाहिए तो आप एक भारत के नागरिक हो ये बहुत ही जरुरी है.

ITI FULL FORM

पीसीएस एग्जाम पैटर्न (PCS Exam Pattern)

PCS का चयन इन तीन चरणों में पूरा होता है.

  • Preliminary Examination 
  • Mains Examination 
  • Personal Interview

1. Preliminary Examination

Preliminary Exam दो परीक्षाएँ होती है जो कुल 200 अंक के लिए होता यानि कुल दो पेपर होते है और पहले पेपर में 150 प्रश्न होते है और दूसरे में 100 प्रश्न होते है. इनमें 2 घंटे का समय होता है.

2. Mains Examination

Mains Examination में चार अनिवार्य विषय के होते है और चार वैकल्पिक विषय के होते है मतलब कुल आठ पेपर होते है.

अनिवार्य विषय इस प्रकार है.

  • सामान्य हिंदी 
  • निबंध 
  • सामान्य अध्ययन पेपर 1
  • सामान्य अध्ययन पेपर 2

वैकल्पिक विषय इस प्रकार है.

  • हिंदी 
  • अंग्रेजी 
  • विज्ञान 
  • इतिहास 
  • भूगोल 
  • सामान्य विज्ञान 
  • वर्तमान घटनाएँ 
  • आर्थिक और सामाजिक विकास
  • भारतीय राजनीति का शासन 
  • पर्यावरण परिस्थितिकी के सामान्य मुद्दे

3. साक्षात्कार (Interview)

जब व्यक्ति Preliminary Examination, Mains Examination इनमे पास हो जाता है तब उन्हें साक्षात्कार के लिए बुला लिया जाता है. और ये 200 अंक के लिए होता है. और इसमें चरित्र, सामान्य जागरूकता, व्यक्तित्व तथा अभिव्यक्ति शक्ति के बारे में प्रश्न पूछे जाते है.

PCS परीक्षा का सिलेबस | PCS Exam Syllables

PCS परीक्षा का सिलेबस निम्न प्रकार से है.

  • भारतीय इतिहास और राष्ट्रीय आंदोलन
  • भारतीय राजव्यवस्था तथा शासन
  • विश्व भूगोल तथा भारतीय भूगोल
  • सामाजिक तथा आर्थिक विकास
  • राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय महत्त्व की वर्तमान घटनाएं
  • पर्यावरण परिस्थितिकी, जैव विविधता तथा जलवायु परिवर्तन
  • सामान्य विज्ञान
  • हिंदी 
  • अंग्रेजी 
  • गणित इत्यादि।

PCS परीक्षा की तैयारी कैसे करें

PCS की तैयारी के लिए आपको बुनयादी बातो का अध्यन होना आवश्यक है. उसके बाद आप विषयो के आवेदन भागो की तैयारी भी कर सकते है.

ये कुछ बाते है जिनका आप ध्यान रखे तो आप PCS की तैयारी आराम से कर सकते है.

  • खुद को इसके लिए तैयार करें। 
  • टाइम टेबल बनायें। 
  • UPPSC के सिलेबस की जानकारी ले। 
  • करंट अफेयर्स तथा न्यूज़ पेपर को पढ़े। 
  • सिलेबस नोट्स बनाये। 
  • उत्तर लिखकर अभ्यास करे। 
  • बीते साल के PCS पेपर प्रश्नों को देखकर हल करें।
  • सकारात्मक रहें।

PCS अधिकारी का काम

PCS अधिकारी का कोई एक काम नहीं है इसमें कई पद होते है उनमे जैसे :जिला, मंडल, उप-मंडल तथा राज्य स्तर, आदि पदों पर आप नौकरी कर सकते है.

इसमें बहुत से पद है जो कुछ इस प्रकार है.

  • Deputy Collector 
  • Deputy Superintendent of Police
  • Assistant Commissioner (Commercial Tax)
  • Block Development Officer (BDO)
  • Assistant Regional Transport Officer 
  • District Commandant Home Guards
  • Account Officer/Treasury Officer
  • Superintendent Jail
  • Manager Credit (Small Industries)
  • Cane Inspector and Assistant Sugar Commissioner

LIC FULL FORM

पीसीएस अधिकारी का वेतन

एक PCS अधिकारी की सैलेरी अगर हम लगभग की बात करे तो 15600 रूपये से लेकर 67000 रूपये तक हो सकती है लेकिन ये सैलेरी भी PCS में अलग अलग पदों के हिसाब से होती है.

सैलेरी के अलावा और भी सुविधाए जो एक PCS अधिकारी को प्रदान की जाती है.

  • रहने के लिए एक सरकारी भवन
  • आने जाने के लिए यातायात वाहन
  • इसके आलावा बहुत से भत्ते भी दिए जाते है

आज आपने क्या सीखा

दोस्तों आज हमने इस आर्टिकल में PCS Full Form in Hindi, PCS Full Form, PCS Ka Full Form, पीसीएस का मतलब, पीसीएस क्या हैं, पीसीएस के लिए योग्यता, पीसीएस का सिलेबस क्या है, PCS से सम्बंधित बहुत सी जानकारिया इस आर्टिकल में दी है.

अगर आपने PCS Ka Full Form आर्टिकल को पूरा पढ़ा होगा तो अब तक आपको PCS से सम्बंधित जानकारी मिल गयी होगी अगर आपके पास कोई भी सवाल है तो आप हमसे कमेंट से पूछ सकते है हम जल्दी ही उसका उत्तर देने का प्रयास करेंगे।

अगर आपको हमारी ये जानकारी पसंद आयी है तो आप ऐसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे। और हमारे पोस्ट को अपने सोशल हैंडल्स पर जरूर डाले।

ऐसे ही अच्छी अच्छी जानकारियों के लिए हमारे ब्लॉग Hindimont पर विजिट करते रहे.

Leave a Comment